KESHAV & SHARMA JI : BAD GIRLS (बुरी लड़किआं)

Dr. G.Singh

शर्मा : केशव जी बुरा ज़माना आ गया है | बुरी लड़कियां घरों को बर्बाद कर रही है |
केशव : अच्छा वैसे यह बुरी लड़की होती कैसी है
शर्मा : जिनकी सोच बुरी हो
केशव : जैसे की ?
शर्मा : जो पूजा पाठ न करती हो
केशव : अधिकांश भारतीय नहीं करते
शर्मा : जो गली गलोच करती हो
केशव : ऐसी कोई लड़की नहीं जो न करती हो आपके सामने या आपकी पीठ पीछे यह अलग मुदा हो सकता है
शर्मा : जो बड़ों की इज़्ज़त न करती हो
केशव : दिखावे की या दिल से
शर्मा : दिल से
केशव : यह जानने का कोई तरीका नहीं की दिल से कौन इज़्ज़त करता है कौन नहीं
शर्मा : देर रात तक बाहर घूमे लड़कों से दोस्ती रखे
केशव : देर रात तक बहार घूमने के कई कारण हो सकते हैं और जहां तक लड़कों से दोस्ती की बात है तो यहां पर एक लड़का भी शामिल है | और सबसे बड़ी बात अपने मुरारी भाई तो कहते हैं की उनको पसंद ही वह लड़कियां है तो रूढ़िवादी ना हो और सब से खुल कर बातचीत कर सकें
शर्मा : आप तो ऐसे बात कर रहे हैं केशव जी जैसे आप बुराई क्या है इसे जानते ही नहीं
केशव : मेरी नज़र मैं जो बुराई है आपकी नज़र मैं वह अच्छाई भी हो सकती है
शर्मा : जैसे की
केशव : आप गोरख बाबा के पास जाते हैं
शर्मा : बहुत ज्ञानी महात्मा है
केशव : मेरी नज़र मैं तो एक नंबर का ढोंगी है
शर्मा : चलिए जो लड़की शादी से बहार सेक्स करे उसे तो आप बुरा मानेंगे या नहीं
केशव : शादी से पहले या बाद मैं
शर्मा : यह क्या बात हुई
केशव : मुख्य बात तो यही है
शर्मा : कैसे
केशव : शादी से पहले हस्बैंड का कोई हक़ ही नहीं बनता लड़की का अपना हक़ है सिर्फ
शर्मा : और शादी के बाद
केशव : जाहिर है अगर शादी के बाद भी लड़की शारीरिक सम्बंद रखती है तो यह बुरी बात है
शर्मा : और जो झूठे केस करे उसका क्या
केशव : वैसे तो यह एक लम्बा मुदा है पर अगर झूठे केस को ही बुरे होने की निशानी माना जाये तो इसका मतलब यह हुआ की लड़की एक निश्चित तारीख से पहले अच्छी थी फिर अचानक बुरी हो गयी
शर्मा : कैसे
केशव : एक निश्चित तारीख को ही तो उसने कम्प्लेन की होगी न
शर्मा : तो आप बताइये की बुरी लड़की आप किसे मानते हैं क्या निर्मल की पत्नी को आप बुरा नहीं मानते
केशव : घर बर्बाद होने के कई कारण हो सकते हैं निर्मल के केस मैं विचारों का तालमेल नहीं होना और पत्नी के द्वारा कानून का दुरपयोग करके गलत कदम उठा लेना है
शर्मा : मतलब वही हुआ न की झूठे केस करना
केशव : शर्मा जी इस दुनिया मैं ऐसा कोई नहीं जिसमे सिर्फ अच्छाई हो न ही ऐसा कोई है जिसमे सिर्फ बुराई हो
शर्मा : हां यह तो है
केशव : ऐसे मैं अगर पावर किसी को दी जाएगी तो वह उसका दुरपयोग करेगा ही
शर्मा : आप कहना क्या चाहते है
केशव : निर्मल के केस मैं कानून का दोष है जो किसी को मिसयूज करने की पावर देता है
शर्मा : इलाज क्या है
केशव : पुरुष आयोग जो पुरुषों को उनका हक़ दिलवा सके
शर्मा : हमारा बुरी लड़कियों का विचार विमर्श बीच मैं ही रह गया
केशव : कोई बात नहीं फिर कभी कर लेंगे अभी समोसे कहते हैं चल कर
शर्मा : चलिए पर समोसों के पैसे आज आप देंगे  

DAMAN WELFARE SOCIETY

www.daman4men.in

Please follow and like us:
0

One thought on “KESHAV & SHARMA JI : BAD GIRLS (बुरी लड़किआं)”

  1. Law maintains that only men are the cause of alll problems and the ladies are only victims.But then nobody explains why then, the women go to the men.

Comments are closed.