हाथी हथनी और वैवाहिक बलात्कार

हाथी हथनी और वैवाहिक बलात्कार   एक कुंवारा चूहा एक हाथी के घर में बिल बना कर रहता था। एक दिन चूहे ने देखा कि उस हाथी और उसकी पत्नी एक थैले से कुछ निकाल रहे हैं। चूहे ने सोचा कि शायद कुछ खाने का सामान है। उत्सुकतावश देखने पर उसने पाया कि वो एक #MaritalRape बिल को लागु करवाने की #PIL थी। ख़तरा भाँपने पर उस ने पिछवाड़े में जा कर कबूतर को यह बात बताई कि घर में… Read more

मर्द-ए-ज़िगर

जमाने ने कह दिया मर्द को दर्दः नहीं होता और मर्द भी चुप बेठ गया अपने ग़मो को समेट कर ज़माना डरता रहा कहीं मर्द–ए–दिल को टटोला गया तो सेहलाब ना आ जाये मर्द–ए–दर्दः की चींख से कहीं क़यामत ना आ जाये मर्द कितना कमजोर है मर्द कितना लाचार है तभी तो घुट–घुट के जीता रहा और फ़ना होता रहा यारो तभी तो घुट–घुट के जिते गए और फ़ना होते गए जाते भी कहा अपना दर्दः भरा फसाना लेकर जाते… Read more

देखते ही देखते, जवान माँ-बाप बूढ़े हो जाते हैं

देखते ही देखते, जवान माँ-बाप बूढ़े हो जाते हैं। सुबह की सैर में कभी चक्कर खा जाते हैं, सारे मौहल्ले को पता है, पर हमसे छुपाते हैं। दिन प्रतिदिन अपनी खुराक घटाते हैं, और तबियत ठीक होने की बात फोन पे बताते हैं। ढीले हो गए कपड़ों को टाइट करवाते हैं। देखते ही देखते, जवान माँ-बाप बूढ़े हो जाते हैं। किसी के देहांत की खबर सुन कर घबराते हैं, और अपने परहेजों की संख्या बढ़ाते हैं। हमारे मोटापे पे हिदायतों… Read more